news reporter kaise bane

हर किसी की एक ड्रीम जॉब होती है। और पत्रकारिता भी ऐसी ही जॉब में आता है। बहुत से लोग पत्रकार बनना चाहते हैं। पर उनको नही पता कि पत्रकार कैसे बनें? आज के इस लेख में हम आपको बताएंगे कि news reporter kaise bane.

पत्रकार बनने के एक दो नही बल्कि अनेकों रास्ते हैं। मेरे परिचित के कई मित्र आज पत्रकारिता के क्षेत्र में हैं। मैं उनसे अक्सर रूबरू होता रहता हूँ। और मैं आज आपको बताऊंगा कि न्यूज़ रिपोर्टर कैसे बना जाता है? न्यूज़ रिपोर्टर बनने के लिए सबसे ज़रूरी गुण है कि आप बहिर्मुखी व्यक्तित्व के इंसान हों। पर घबराइए मत, अन्तःमुखी इंसान भी इस क्षेत्र में आगे जा सकता है। आइये जानते हैं How to become a Journalist in Hindi.

न्यूज रिपोर्टर कैसे बना जाता है? How to become a Journalist in Hindi

न्यूज रिपोर्टर बनने के लिए आपके पास कई रास्ते हैं। पर तय आपको करना है कि आप किस रास्ते पर जाकर न्यूज़ रिपोर्टर बनना चाहते हैं।

पत्रकार बनने की सीढ़ी 12th बाद ही चढ़ना पड़ता है। विभिन्न संस्थान मीडिया कोर्सेज उपलब्ध करवाते हैं। जहां जाकर आप पत्रकारिता की पढ़ाई कर सकते हैं और अच्छे जर्नलिस्ट बन सकते हैं।

हमारे अन्य लेख-  Diploma Course After 12th हिंदी में

पर प्रश्न ये उठता है कि हम कैसे जाने कि कौन से संस्थान मीडिया कोर्सेज करवाते हैं। तो मैं आपको बता दूँ कि अधिकतर मान्यता प्राप्त केंद्रीय विश्वविद्यालय मास कॉम का कोर्स करवाते हैं। इसके अलावा भी कई इंस्टीट्यूट हैं जहां से आप मीडिया की पढ़ाई कर सकते हैं।

पर आपको केवल जोश में कार्य नही करना है। आपके अंदर वो लगन भी होना चाहिए। क्योंकि अधिकतर संस्थान जो पत्रकारिता की पढ़ाई करवाते हैं उनका एक एंट्रेंस एग्जाम अर्थात प्रवेश परीक्षा होती है। जिसे निकालने के पश्चात ही आप वहां से मीडिया की पढ़ाई करने में सक्षम हो सकते हैं।

मीडिया या मास कॉम की पढ़ाई की बात की जाए तो इलाहाबाद विश्वविद्यालय, जामिया मिलिया इस्लामिया जैसे संस्थानों के नाम जहां सामने आते हैं। वहीं IIMC जैसे प्रतिष्ठित संस्थान भी देखने को मिलते हैं।

आप गूगल करके अन्य इंस्टीट्यूट की भी जानकारी खोज सकते हैं। परंतु ये इंस्टिट्यूट मान्यता प्राप्त और विश्व प्रसिद्ध हैं।

पर बहुत से लोग उच्च मीडिया संस्थान में पढ़ाई नही कर पाते फिर भी पत्रकार बन जाते हैं। इसकी मुख्य वजह है उनके अंदर पत्रकारिता का गुण होना है। कोर्स करके आप सिर्फ कागजों में दिखा सकते हैं कि आप उस लायक हैं परंतु यदि आपके अंदर गुण है तो भी आप इस क्षेत्र में आ सकते हैं।

आप फ्रीलांसर के तौर पर भी पत्रकारिता कर सकते हैं और फुल टाइम कैरियर के तौर पर भी।

पत्रकारिता के रूप और पत्रकार बनने के रास्ते

आज वेबसाइट यूट्यूब इंस्टाग्राम के जमाने मे पत्रकारिता के रूप भी बदले हैं।

आप ख़ुद की न्यूज़ वेबसाइट शुरू करके उसके माध्यम से भी पत्रकारिता कर सकते हैं। अगर आपको देश विदेश की खबरें जानने में रुचि है। तो ये आपके लिए एक बेहतरीन ऑप्शन है।

आप न्यूज़ वेबसाइट के माध्यम से ख़ुद की पहचान भी बना सकते हैं साथ ही साथ रिपोर्टर भी बन सकते हैं।

इसके अलावा विभिन्न न्यूज़ वेबसाइट और न्यूज़ चैनल समय-समय पर vacancy निकालते रहते हैं। और हर न्यूज़ चैनल या वेबसाइट आपसे मीडिया कोर्स की मांग नही करते बल्कि उन्हें टैलेंटेड लोग चाहिए होते हैं। वो आपके कार्य देखते हैं। ऐसे में आप अपनी वेबसाइट या लेखन का नमूना दिखाकर उनको इम्प्रेस कर सकते हैं और जॉब अपनी मुट्ठी में कर सकते हैं।

तीसरा तरीका है आप यूट्यूब के माध्यम से जर्नलिस्ट के रूप में ख़ुद की पहचान बनाएं। जी हां यह भी आजकल कार्य करने वाला एक प्रचलित तरीका है। अगर आपके अंदर बोलने का और बात रखने का हुनर है तो आज ही यूट्यूब चैनल बना लीजिए और नियमित रुप से खबरे देना या उनका विश्लेषण करना शुरू कर दीजिए। ध्रुव राठी जैसे लोग यही कार्य करके आज एक youtuber और खबर विश्लेषक के रूप में जाने जाते हैं।

एक पत्रकार को सैलरी कितनी मिलती है?

हर पत्रकार को एक समान सैलरी नही मिलती। अनुभव और कार्य को देखते हुए सैलरी हर पत्रकार की अलग-अलग होती है।

यदि आप इस क्षेत्र में नए हैं तो इंटर्न के रूप में 10 से 15 हजार मासिक सैलरी मिल सकती है। जो बाद में किसी न्यूज़ कंपनी में कार्य करने में अच्छी खासी हो जाती है।

अगर पत्रकारिता की औसत तनख्वाह की बात की जाए तो ये 40 से 60 हजार के बीच रहती है। और अनुभव के साथ बढ़ती जाती है।

अगर आप ख़ुद से सब करते हैं तो इसमें और समय लग सकता है। पर जब आपकी पहचान बन जाती है तो आप आराम से लाख रुपए से ज़्यादा भी कमा सकते हैं।

ख़ुद से कार्य करने का लाभ ये है कि आप स्वतंत्र होकर कार्य कर सकते हैं।

पत्रकार बनने के फायदे – Advantages of Being Journalist

पत्रकार बनने के बहुत से फायदे हैं।

  • आपको ख़ुद की पहचान बनती है।
  • हर वर्ग का व्यक्ति आपको जानने लगता है।
  • आप किसी भी स्थान पर जा सकते हैं आपको रोकने वाले लोग न के बराबर होंगे।
  • पुलिस भी आपकी रेस्पेक्ट करेगी।
  • हर व्यक्ति आपको आदर के भाव से देखेगा।
  • आपकी फैन फॉलोइंग बढ़ती जाएगी।

पत्रकार होने के नुकसान

पत्रकार होने के कई नुकसान भी हैं।

  • असुरक्षा – आपको कोई सिक्योरिटी नही मिलती है, अतः आपको सदैव भय बना रहेगा कि आपने जिसके खिलाफ लिखा या कहा है, वो ठोस कदम न उठा ले।
  • नफरत का सामना- बहुत से लोग नफरत भी करने लगेंगे आपसे। क्योंकि आप सबको इस क्षेत्र में खुश नही रह सकते।
  • समय का अभाव- आपको कभी भी कहीं से रिपोर्टिंग करना पड़ सकता है। तो आप फ्री टाइम जल्दी नही निकाल सकते।
  • नौकरी जाने का भय- अधिकतर न्यूज़ कंपनियां प्राइवेट होती हैं, जो आपको कभी भी नौकरी से निकाल सकती हैं।

Conclusion-

यदि आप समाज मे बदलाव लाना चाहते हैं तो रिपोर्टर से बढ़िया तरीका क्या ही होगा। आप एक पत्रकार बनकर समाज के हर तबके को जागरूक कर सकते हैं। यदि आप मे लगन है और आप आराम त्यागकर देश सेवा करना चाहते हैं और खतरों से खेलने की हिम्मत रखते हैं तो ये फील्ड सिर्फ और सिर्फ आपके लिए है। आपको आगे बढ़ने से कोई नही रोक सकता।

अगर आपको यह आर्टिकल पत्रकार कैसे बने या न्यूज़ रिपोर्टर कैसे बना जाता है ( How to become a Journalist in Hindi) पसन्द आया हो तो इसे अपने दोस्तों के बीच शेयर करें। सोशल मीडिया में लोगों को बताए कि वो भी पत्रकार बन सकते हैं। कोई अच्छे लिखने वाले मित्र को इसकी लिंक भेजें। उन्हें यह लेख अवश्य पसंद आएगा।

Tags: news reporter kaise bane in hindi, news reporter kaise bane?

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here