Solar System In hindi

सौरमंडल के ग्रहों के नाम| सौर मंडल क्या है? Solar System In hindi

दोस्तों आज हम आपको सौर मंडल(Solar System) के बारे में बहुत ही महत्वपूर्ण जानकारी देने वाले हैं। इस पोस्ट के अंतर्गत हम आपको सौरमंडल, सौर मंडल के सभी सदस्यों की जानकारी तथा सौरमंडल से जुड़े सभी रोचक तथ्यों से अवगत कराएंगे। चलिए शुरू करते हैं-

सौर मंडल (Solar System in Hindi)

Solar System In hindi
Image Source: Pixabay

दोस्तों आपने सौरमंडल (Solar System) के बारे में तो सुना ही होगा पर आज हम आपको सौरमंडल के बारे में संपूर्ण जानकारी देने वाले हैं।
हमारे सौरमंडल (Solar System) में बहुत सी ऐसी चीजें हैं जिनके बारे में हमें पता ही नहीं है। सौरमंडल में बहुत से ग्रह मौजूद है। अब आपका प्रश्न यह होगा कि सौरमंडल में तो केवल 8 ही ग्रह हैं? जी हां दोस्तों आपने सही कहा, लेकिन हम आपको बता दें की सौरमंडल में केवल 8 ही ग्रह नहीं बल्कि बहुत सारे ग्रह हैं पर अभी तक वैज्ञानिकों को हमारे सौरमंडल के सारे ग्रहों के बारे में जानकारी ही नहीं है। हमारे वैज्ञानिक अभी तक केवल 8 ग्रहों की खोज करने में सक्षम हो सके हैं। इससे आप अंदाजा लगा सकते हैं कि हमारा सौरमंडल (Solar System) कितना बड़ा है।

दोस्तों हमारे सौरमंडल में सिर्फ ग्रह ही नहीं बल्कि बहुत सारे उपग्रह भी मौजूद है, आज के इस लेख में हम आपको अभी तक ज्ञात सौर मंडल के 8 ग्रहों के बारे में तथा उनसे जुड़े कुछ महत्वपूर्ण तथ्यों के बारे में जानकारी प्रदान करेंगे तो ज्यादा समय न लगाते हुए शुरू करते हैं-

सौर मंडल के सदस्य (Parts Of Solar System)

हमारे सौरमंडल में बहुत सारे ग्रह है इन ग्रहों में से हम 8 महत्वपूर्ण ग्रहों के बारे में जानकारी प्रदान करेंगे। ये ग्रह है- बुध (Mercury), शुक्र (Venus), पृथ्वी (Earth), मंगल (Mars), वृहस्पति (Jupiter), शनि (Sturn), अरुण (Uranus), वरुण (Neptune) । इन सभी ग्रहों का मुखिया सूर्य(Sun) है। सूर्य कोई ग्रह नहीं बल्कि एक तारा है तो चलिए इन सभी की जानकारी एक-एक करके देखते हैं-

सूर्य (Sun)

दोस्तों हम सभी सूर्य को जानते हैं कारण! हमारे दिन की शुरुआत सूर्योदय से होती है। यही सूर्य हमारे सौर मंडल (Solar System) का सबसे महत्वपूर्ण घटक है। यही सूर्य हमारे सौरमंडल को नियंत्रित करता है इसीलिए सूर्य, सौरमंडल (Solar System) के केंद्र में बसा है।

सभी आठों ग्रह सूर्य के चारों ओर परिक्रमा लगाते हैं, सूर्य सभी ग्रहों की स्थिति को निर्धारित करता है। दोस्तों सूर्य आकार में हमारी पृथ्वी (Earth) से लगभग 109 गुना बड़ा है। इससे आप सूर्य (Sun) कितना बड़ा है, इसका अंदाजा लगा सकते हैं। सूर्य एक गैसीय गोला है जिसमें हाइड्रोजन 71%, हीलियम 26.5% तथा अन्य तत्व 2.5% होता है।

सूर्य (Sun) के मजबूत गुरुत्वाकर्षण (Gravity) के कारण सभी ग्रह अपनी कक्षा में स्थित हैं। सूर्य का कुल व्यास 13,92,000 किलोमीटर है। जिस प्रकार सभी ग्रह सूर्य (Sun) के चारों ओर परिक्रमा लगाते हैं उसी प्रकार सूर्य भी आकाशगंगा के चारों ओर परिक्रमा लगाता है। सूर्य (Sun) द्वारा आकाशगंगा की एक परिक्रमा पूरा करने में 22- 25 करोड़ वर्ष लग जाते हैं।

हमारे अन्य महत्वपूर्ण लेख भी पढ़ें-

1. बुध (Mercury)

दोस्तों बुध (Mercury) ग्रह सौरमंडल का सबसे छोटा ग्रह है। इस ग्रह के पास कोई भी उपग्रह नहीं है। यह ग्रह छोटा होने के साथ-साथ सूर्य का सबसे नजदीकी ग्रह भी है। इस ग्रह को सूर्य की एक परिक्रमा पूरी करने में 88 दिन लगते हैं यह समय दूसरे ग्रहों की तुलना में बहुत कम है।

बुध ग्रह सूर्य से लगभग 57,910,000 किलोमीटर दूर है। बुध ग्रह का व्यास 4880 किलोमीटर है। दोस्तों हम बुध ग्रह को अपनी खुली आंखों से भी देख सकते हैं। बुध हमें सूर्यास्त के कुछ समय पहले दिखाई पड़ता है। बुध ग्रह पर हाइड्रोजन, हीलियम गैसें भारी मात्रा में पाए जाती हैं। बुध ग्रह में दिन अत्यधिक गर्म तथा रातें अत्यधिक बर्फीली होती हैं। इस ग्रह में दिन का तापमान 427 डिग्री सेंटीग्रेड तथा रात का तापमान लगभग -173 डिग्री सेंटीग्रेड हो जाता है।

2. शुक्र (Venus)

शुक्र (venus) का सौरमंडल (Solar System) में दूसरा स्थान है। यह ग्रह पृथ्वी का सबसे निकटतम ग्रह है। शुक्र ग्रह सौरमंडल का सबसे गर्म ग्रह है। इस ग्रह को सांझ का तारा तथा भोर का तारा जैसे नामों से भी पुकारा जाता है। शुक्र (Venus) को सूर्य (Sun) की एक परिक्रमा पूरी करने में लगभग 224.7 दिन लग जाते हैं। शुक्र ग्रह की सूर्य से दूरी 108,200,000 किलोमीटर है।

शुक्र (Venus) ग्रह का व्यास 12,104 किलोमीटर है। शुक्र ग्रह का एक भी उपग्रह नहीं है। जिस तरह हम बुध (Mercury) को खुली आंखों से देख सकते हैं उसी प्रकार हम शुक्र (Venus) को भी खुली आंखों से देख सकते हैं। सबसे ज्यादा कार्बन डाइऑक्साइड गैस की मात्रा शुक्र ग्रह पर होती है। इस ग्रह पर हमें बहुत सारे ज्वालामुखी देखने को मिलते हैं। शुक्र ग्रह का तापमान 462 डिग्री सेंटीग्रेड तक पहुंच जाता है।

3. पृथ्वी (Earth)

दोस्तों पृथ्वी (Earth) ग्रह को सभी लोग जानते हैं, कारण! हम जिस ग्रह पर रहते हैं उस ग्रह का नाम ही पृथ्वी (Earth) है। पूरे सौर मंडल (Solar System) में पृथ्वी ही एकमात्र ऐसा ग्रह है जिस पर जीवन संभव है बाकी किसी भी ग्रह पर जीवन संभव नहीं है। दोस्तों पृथ्वी (Earth) को सूर्य की एक परिक्रमा पूरी करने में 365 दिन लग जाते हैं। पृथ्वी को स्वयं का एक चक्कर लगाने में 24 घंटे लगते हैं।

पृथ्वी पर बहुत सारी गैसें मौजूद है जिसमें नाइट्रोजन 78%, ऑक्सीजन 21% कार्बन डाइऑक्साइड 0.03% तथा शेष मात्रा में अन्य गैसे हैं। पृथ्वी से सूर्य की दूरी 149,600,00 किलोमीटर है। पृथ्वी का व्यास लगभग 12742 किलोमीटर है। पृथ्वी का अपना एक उपग्रह है जिसका नाम चंद्रमा (Moon) है। पृथ्वी का अधिकतम तापमान 56.76 डिग्री सेंटीग्रेड तथा सबसे कम -89 डिग्री सेंटीग्रेड है। पृथ्वी अपनी कक्षा में 23.5 डिग्री में झुकी हुई है।

4. मंगल (Mars)

मंगल को लाल ग्रह (Red Planet) कहा जाता है, इस ग्रह का रंग लाल, आयरन ऑक्साइड के कारण है। मंगल (Mars) ग्रह की दूरी सूर्य से 227,900,000 किलोमीटर है। मंगल ग्रह को सूर्य की एक परिक्रमा करने में 687 दिन लग जाते हैं और खुद की परिक्रमा करने के लिए 24 घंटे 6 मिनट का समय लगता है।

मंगल (Mars) का कुल व्यास 6,779 किलोमीटर है। मंगल ग्रह के 2 उपग्रह है जिनके नाम फोबोस (Phobos) और डीमोस (Deimos) है। सौरमंडल का सबसे बड़ा ज्वालामुखी जिसका नाम ओलिपस मेसी तथा सौरमंडल का सबसे ऊंचा पर्वत जिसका नाम निक्स ओलंपिया है, इसी ग्रह पर स्थित हैं। मंगल ग्रह का अधिकतम तापमान 130 डिग्री सेल्सियस तथा न्यूनतम तापमान -50 डिग्री सेल्सियस होता है।

5. बृहस्पति (Jupitar)

बृहस्पति ग्रह सौरमंडल का सबसे बड़ा ग्रह है। इस ग्रह को सूर्य की एक परिक्रमा पूरी करने में 11.9 वर्ष लग जाते हैं तथा खुद की एक परिक्रमा पूरी करने में 9.9 घंटे लग जाते हैं। बृहस्पति ग्रह की दूरी सूर्य से लगभग 778,500,000 किलोमीटर है। इस ग्रह का रंग पीला है।

बृहस्पति ग्रह के कुल 79 उपग्रह है जिसमें सबसे प्रमुख उपग्रह का नाम ग्यानीमीड है। बृहस्पति ग्रह पृथ्वी से करीब 318 गुना बड़ा है। इस ग्रह में 71% हाइड्रोजन, 24% हिलियम, 5% अन्य गैसे  हैं। वृहस्पति ग्रह पर सर्वाधिक गैसों के पाए जाने के कारण, इसे गैस का गोला भी कहा जाता है। बृहस्पति ग्रह का व्यास 139,820 किलोमीटर है। इस ग्रह का औसतन तापमान -108 डिग्री सेल्सियस है।

6. शनि (Saturn)

शनि ग्रह आकार में सौरमंडल का दूसरा सबसे बड़ा ग्रह है। शनि ग्रह देखने में अन्य ग्रहों की अपेक्षा बहुत ही अलग है। इसके चारों और वलय पाए जाते हैं। इन वलयों की संख्या 7 है। इससे शनि की विशेषता और भी बढ़ती है। शनि ग्रह सूर्य से लगभग 143 करोड़ किलोमीटर है। शनि ग्रह का कुल व्यास 116,460 किलोमीटर है। इससे हमें पता चलता है कि शनि ग्रह कितना बड़ा हो सकता है।

शनि ग्रह सूर्य की एक परिक्रमा पूरी करने में लगभग 29.5 वर्ष लगाता है जबकि खुद की एक परिक्रमा पूरी करने में लगभग 10.3 घंटे लगाता है, इससे हमें शनि की गति का पता चलता है। शनि ग्रह में 96% हाइड्रोजन, 3% हिलियम बाकी 1% में अन्य गैसे पाए जाती हैं। शनि के सबसे बड़े उपग्रह का नाम टाइटन है, टाइटन की खोज 1665 ईस्वी में डेनमार्क के खगोलशास्त्री क्रिस्चियन हाइजोन ने की थी।

7. अरुण (Uranus)

अरुण ग्रह आकार में तीसरा सबसे बड़ा ग्रह है। यह ग्रह सूर्य से लगभग 300,6,58,000 किलोमीटर दूर है। इसका कुल व्यास लगभग 51,118 किलोमीटर है। अरुण ग्रह, सूर्य की एक परिक्रमा पूरी करने में लगभग 84 वर्ष लगाता है तथा स्वयं की एक परिक्रमा पूरी करने में 17 घंटे 14 मिनट लगाता है। इस ग्रह पर भी अन्य ग्रहों की तरह गैसें मौजूद हैं जिनमें हाइड्रोजन 83%, हिलियम 15% तथा मीथेन 2.3 प्रतिशत है। वरुण ग्रह अपनी धुरी पर सूर्य की ओर सबसे ज्यादा झुका हुआ है।
ज्यादा झुके होने के कारण यह ग्रह लेटा हुआ दिखाई देता है इसलिए इसे लेटा हुआ ग्रह भी कहा जाता है। अरुण ग्रह के 27 उपग्रह हैं इस ग्रह के सबसे बड़े उपग्रह का नाम टाइटेनिया (Titania) है। इस ग्रह की खोज सन् 1781 ईसवी में विलियम हर्शेल ने किया था।

8. वरुण (Neptune)

दोस्तों वरुण (Naptune) ग्रह हमारे सौरमंडल (Solar System) का सबसे आखिरी ग्रह है। इसके बाद भी बहुत सारे ग्रह हैं पर उन ग्रहों के बारे में हमारे वैज्ञानिकों को भी ज्यादा जानकारी नहीं है। वरुण ग्रह सौरमंडल में आठवें स्थान पर है। वरुण ग्रह सूर्य से लगभग 439,83,96,44 किलोमीटर दूर है। वरुण ग्रह को सूर्य की एक परिक्रमा पूरी करने में 164.8 वर्ष लगते हैं जबकि स्वयं की एक परिक्रमा पूरी करने में 16.1 घंटे लगते हैं।

इस ग्रह पर भी शनि जैसे वलय हैं परंतु ये वलय शनि जितने बड़े नहीं हैं। इस ग्रह के भी अन्य ग्रहों की तरह उपग्रह हैं। वरुण (Neptune) के 13 उपग्रह हैं। इस ग्रह में 80% हाइड्रोजन, 19% हिलियम तथा 1% मीथेन उपलब्ध है। इस ग्रह को बर्फीले गैस का गोला भी कहा जाता है। इस ग्रह का औसतन तापमान -201 डिग्री सेल्सियस है।

दोस्तों हमने आपको अभी सौर मंडल (Solar System) के सदस्यों (Parts Of Solar System) के बारे में जानकारी दी है अब हम देखते हैं सौरमंडल (Solar System) से जुड़े कुछ महत्वपूर्ण तथ्यों को (Facts about Solar System) ।

सौरमंडल से जुड़े तथ्य | (Facts about solar System)

1. शनि (Saturn) का एक उपग्रह है जिसका नाम हाइपीरियन (Hyperion) है, इसका घनत्व ( Dencity) इतना कम है कि यह पानी में भी तैर सकता है।

2. उपग्रह सिर्फ ग्रहों के ही होते हैं पर एक ऐसा Asteroid है जिसका एक उपग्रह भी है, इस उपग्रह का नाम Dactyl है। हमारे सौरमंडल में कुल 127 ऐसे Asteroid है जिनके खुद के उपग्रह भी हैं यह एक अपने आप में अजीब बात है।

3. दोस्तों बृहस्पति ग्रह का एक उपग्रह जिसका नाम Ganymede है यह उपग्रह दरअसल बुध ग्रह से भी बड़ा है।

4. दोस्तों हमारे सौरमंडल में सबसे दूर एक ग्रह है जिसका नाम V774104 है यह सूर्य से लगभग 7,500,000,000,000 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है यह ग्रह बहुत ही बड़ा है पर आश्चर्य की बात यह है कि अभी तक इसके बारे में Astronauts भी ज्यादा जानकारी नहीं जुटा पा सके।

आशा है आप लोगों को यह पोस्ट”सौरमंडल के ग्रहों के नाम| सौर मंडल क्या है? Solar System In hindi” अवश्य पसंद आई होगी। अगर हमारा यह छोटा सा प्रयास अच्छा लगा हो तो आपसे विनम्र निवेदन है कि इस पोस्ट को ज्यादा से ज्यादा शेयर करें जिससे हमें मनोबल प्राप्त होगा और हम आपके लिए ऐसे ही ज्ञानवर्धक पोस्ट लाते रहेंगे। अगर आपके मन में कोई सुझाव या शिकायत है तो आप हमें कमेंट करके बता सकते हैं। अपना बहुमूल्य समय देने के लिए धन्यवाद।