भारत में परिवहन प्रणाली Transport System In India, दोस्तों आज हम लोग भारत के भूगोल विषय के अंतर्गत भारत में परिवहन प्रणाली के बारे में पढ़ेंगे। इस पोस्ट में आपको परिवहन से संबंधित जितने भी प्रश्न है सभी के उत्तर मिल जाएंगे। अगर आप SSC, MPPSC, UPSC, Railway तथा अन्य  प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे हैं तो आपके लिए यह चैप्टर अत्यंत महत्वपूर्ण है तो आइए शुरू करते हैं-

भारत में परिवहन प्रणाली (Transport System In India)

परिवहन का अर्थ क्या है? (What is meaning of Transport?)

परिवहन वह साधन होता है जिसकी सहायता से हम व्यक्तियों तथा सामग्री को एक स्थान से दूसरे स्थान तक पहुंचाते हैं। भारतीय परिवहन को तीन भागों में बांटा गया है-
1. स्थल परिवहन
2. जल परिवहन
3. वायु परिवहन

भारत में परिवहन प्रणाली

स्थल परिवहन से आप क्या समझते हैं?

ऐसा परिवहन जिसका प्रयोग हम भूभाग में व्यक्तियों तथा वस्तुओं को एक स्थान से दूसरे स्थान में ले जाने के लिए करते हैं, स्थल परिवहन कहलाता है। स्थल परिवहन दो प्रकार का होता है

(A) सड़क परिवहन

सड़क परिवहन के बारे में जानने से पहले हम यह जानने की कोशिश करते हैं कि सड़क कितने प्रकार की होती है।

  • ऐसी सड़क जो एक राज्य को दूसरे राज्य से जोड़ती है उसे राष्ट्रीय राजमार्ग कहते हैं इसे संक्षेप में NH (National Highway) कहते हैं।
  • वह सड़क जो किसी राज्य की आंतरिक सीमा तक सीमित होती है उसे राजकीय राजमार्ग कहते हैं इसे संक्षेप में SH (State Highway) कहते हैं।
  • ऐसी सड़क जो किसी जिले की आंतरिक सीमा तक सीमित होती है उसे जिला सड़क कहते हैं इसे संक्षेप में DH (District Highway) कहा जाता है।
  • ऐसी सड़क जो किसी गांव की आंतरिक सीमा तक सीमित होती है उसे ग्रामीण सड़क कहते हैं इसे संक्षेप में VH (Village Highway) कहा जाता है।

भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (NHAI)

भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण केंद्र सरकार का एक प्राधिकरण है इसे NHAI (National Highway Authority Of India) कहा जाता है। इस प्राधिकरण का कार्य राष्ट्रीय राजमार्ग की सड़कों का रखरखाव करना होता है। आप लोग यह देखते होंगे कि जब आप सड़क के माध्यम से घर जा रहे होते हैं तो रास्ते में टोल प्लाजा मिलता है और टोल प्लाजा में वाहन के स्वामी को Road Tax देना होता है। अर्थात NHAI का कार्य वाहन स्वामी से रोड टैक्स वसूलना भी होता है।

भारत के राष्ट्रीय राजमार्गों की सूची

NH-1 यह दिल्ली को अमृतसर ( पंजाब) से जोड़ता है।

NH-2 यह दिल्ली को कोलकाता से जोड़ता है

NH-1 तथा NH-2 को सम्मिलित रूप से G.T Road कहा जाता है।

NH-3  यह मुंबई को आगरा से जोड़ता है।

NH-44 यह श्रीनगर को कन्याकुमारी से जोड़ता है। वर्तमान समय में NH44 भारत का सबसे लंबा राष्ट्रीय राजमार्ग है। इससे पहले NH-7 भारत का सबसे लंबा राष्ट्रीय राजमार्ग हुआ करता था।

NH-7 यह वाराणसी को कन्याकुमारी से जोड़ता है।

NH-44(A) में भारत की सबसे लंबी सुरंग चेनानी नाशरी सुरंग स्थित है इससे पहले जवाहर सुरंग भारत की सबसे लंबी सुरंग थी। चेनानी नाशरी सुरंग जम्मू कश्मीर में स्थित है। यह जम्मू कश्मीर के दो स्थानों चेनानी और नाशरी को आपस में जोड़ती है। सुरंग की लंबाई 9.28 किलोमीटर है।

NH-47(A)  यह भारत का सबसे छोटा राष्ट्रीय राजमार्ग है। इसकी लंबाई मात्र 6 किलोमीटर है। इस राजमार्ग का निर्माण केरल राज्य की वेंबनाद झील में स्थित वेलिंगटन द्वीप में किया गया है।

वर्तमान में भारत का सबसे लंबा पुल ब्रह्मपुत्र की सहायक नदी लोहित में बनाया गया है। इस पुल की लंबाई 9.15 किलोमीटर है। इस पुल का नाम भूपेन हजारिका पुल है। भूपेन हजारिका पुल असम राज्य के सादिया शहर तथा अरुणाचल प्रदेश के ढोला शहर को आपस में जोड़ता है। इसलिए इस पुल का अन्य नाम ढोला सादिया पुल भी है। पहले भारत का सबसे लंबा पुल महात्मा गांधी सेतु ( पटना) था।

(B) रेल परिवहन

1825 में विश्व की पहली रेलगाड़ी चलाई गयी थी यह इंग्लैंड के मैनचेस्टर से लीवरपुल के बीच चलाई गई थी।

भारतीय रेल प्रणाली क्या है?

भारत में सबसे पहली ट्रेन 16 अप्रैल 1853 ईसवी में लॉर्ड डलहौजी के शासनकाल में मुंबई से ठाणे के बीच (34 KM) चलाई गई थी। यह ट्रेन कोयला से संचालित थी इस पहली ट्रेन का नाम BLACK DUTY था।

  • वर्तमान में भारत की सबसे तेज चलने वाली ट्रेन TRAIN-18 है यह दिल्ली से वाराणसी के मध्य चलती है। इसकी गति 160 किलोमीटर प्रति घंटा है। इस ट्रेन को वंदेभारत एक्सप्रेस भी कहते हैं।
  • भारत की सबसे लंबी दूरी तय करने वाली ट्रेन विवेक एक्सप्रेस है जो असम के डिब्रूगढ़ से कन्याकुमारी तक चलती है।
  • भारत में सबसे पहले मेट्रो ट्रेन की शुरुआत 1984 ईसवी में कोलकाता में हुई थी।
  • महिलाओं के द्वारा संचालित भारत का पहला रेलवे स्टेशन माटुंगा स्टेशन है जो महाराष्ट्र राज्य में स्थित है।
  • चंद्रगिरी रेलवे स्टेशन (आंध्र प्रदेश) दक्षिण भारत का पहला महिलाओं के द्वारा संचालित होने वाला रेलवे स्टेशन है।

भारत के रेलवे जोन

वर्तमान समय में देखा जाए तो भारत में कुल अट्ठारह रेलवे जोन है इन्हीं रेलवे मंडल भी कहा जाता है। इन 18 रेल मंडलों में 2 रेल मंडल उत्तर प्रदेश में स्थित है उत्तर प्रदेश में NCR तथा NER दो रेलवे मंडल है।

जल परिवहन से आप क्या समझते हैं?

ऐसा परिवहन जिसका प्रयोग जलीय क्षेत्र के द्वारा व्यक्तियों तथा वस्तुओं को एक स्थान से दूसरे स्थान में ले जाने के लिए करते हैं जल परिवहन कहलाता है इसे NW (National Water Way) कहा जाता है।

 भारत के प्रमुख जल मार्ग

NW-1  यह गंगा नदी पर स्थित है यह जलमार्ग प्रयागराज तथा हल्दिया को आपस में जोड़ता है। NW-1 भारत का सबसे बड़ा जलमार्ग है।

NW-2 यह ब्रह्मपुत्र नदी पर स्थित है। यह जलमार्ग सादिया( असम) को धुबरी( अरुणाचल प्रदेश) से जोड़ता है।

NW-3 यह कोल्लम को कोट्टापुरम से जोड़ता है।

NW-4 यह काकीनाडा को मरक्कानम से जोड़ता है।

NW-5 यह तलचर को धमरा से जोड़ता है।

NW-6 यह लखीपुर को भांगा से जोड़ता है।

बंदरगाह किसे कहते हैं?

पानी के जहाजों का जिस स्थान पर ठहराव होता है वही स्थान बंदरगाह कहलाता है बंदरगाह पर जहाजों में माल को लादा तथा उतारा जाता है। भारत में 13 बड़ी तथा 200 छोटे-छोटे बंदरगाह है।

भारत के बड़े बंदरगाहों की सूची

1. कांडला
2. मुंबई
3. न्हावाशेवा
4. मार्मागोवा
5. मंगलौर
6. कोचीन
7. हल्दिया
8. कोलकाता
9. पारादीप
10. विशाखापट्टनम
11. चेन्नई
12. तूतीकोरन
13. एन्नोर

भारत प्राकृतिक बंदरगाहों ( ज्वारीय बंदरगाह) की सूची

1. कांडला
2. मुंबई
3. कोचीन
4. विशाखापट्टनम
5. चेन्नई

वायु परिवहन से आप क्या समझते हैं?

भारत में हवाई परिवहन की शुरुआत 1911 ईस्वी में हुई, सर्वप्रथम इलाहाबाद से नैनी के बीच विश्व की प्रथम विमान डाक सेवा की शुरुआत की गई।

भारत के प्रमुख हवाई अड्डे

1. इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा – नई दिल्ली
2. छत्रपति शिवाजी अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा – मुंबई
3. राजीव गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा – हैदराबाद
4. नेताजी सुभाष चंद्र बोस अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा- कोलकाता
5. सरदार बल्लभ भाई पटेल अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा- अहमदाबाद
6. भीमराव अंबेडकर अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा- नागपुर
7. वीर सावरकर हवाई अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा- पोर्ट ब्लेयर
8. बिरसा मुंडा अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा- रांची
9. लाल बहादुर शास्त्री अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा- वाराणसी
10. चौधरी चरण सिंह अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा- लखनऊ

हमारे अन्य महत्वपूर्ण लेख भी पढ़ें-

 

आशा है आप लोगों को यह पोस्ट”भारत में परिवहन प्रणाली Transport System In India” अवश्य पसंद आई होगी। अगर हमारा यह छोटा सा प्रयास अच्छा लगा हो तो आपसे विनम्र निवेदन है कि इस पोस्ट को ज्यादा से ज्यादा शेयर करें जिससे हमें मनोबल प्राप्त होगा और हम आपके लिए ऐसे ही ज्ञानवर्धक पोस्ट लाते रहेंगे। अगर आपके मन में कोई सुझाव या शिकायत है तो आप हमें कमेंट करके बता सकते हैं। अपना बहुमूल्य समय देने के लिए धन्यवाद।